समर्थक

सोमवार, 5 दिसंबर 2011

विश्व साहित्य एवं अनुवाद : हिंदी का संदर्भ



पढ़ने के लिए कृपया निम्नलिखित किसी एक लिंक पर क्लिक करें- 

2 टिप्‍पणियां:

चंद्रमौलेश्वर प्रसाद ने कहा…

बहुत बढिया... मुझ जैसे लोग बहुत कुछ सीख सकते हैं॥

बलराम अग्रवाल ने कहा…

हिन्दी के संदर्भ में अनुवाद की व्यापक सामर्थ्य और उसके दाय पर अति उच्च स्तरीय लेख आपने लिखा है। अनुवाद को जानने-समझने के इच्छुक लोगों को नि:संदेह इससे बहुत-कुछ सीखने को मिलेगा।