समर्थक

बुधवार, 10 अगस्त 2011

ग्लासवेयर की फोटोग्राफी [लिपि भारद्वाज]

फोटो-कार्यशाला :4 : लिपि भारद्वाज 

    स्वतंत्र वार्त्ता                                                                     अनुवाद : सीएमपी  अंकल 

2 टिप्‍पणियां:

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

बहुत उपयोग नवागन्तुकों के लिये।

चंद्रमौलेश्वर प्रसाद ने कहा…

,,, पर यह अंकल का नाम क्यू????