समर्थक

रविवार, 15 नवंबर 2009

बेटा

 
Posted by Picasa

1 टिप्पणी:

cmpershad ने कहा…

एक ठो कविता होती ‘बेटा’ पर :) जब मां, बेटी पर होती है तो बेटे पर क्यों नहीं?